अबकी बार–बैसाखी सरकार

वैसे सरकार जी को बुरा नहीं मानना चाहिए, उम्र बढ़ रही है, सहारे की जरूरत पड़ती ही है।  चुनाव की प्रक्रिया पूरी हो चुकी है। रिजल्ट भी आ चुके हैं…

एनडीए सरकार में हिन्दू राष्ट्रवाद की दिशा क्या होगी?

लोकसभा आमचुनाव में भाजपा के 272 सीटें हासिल करने में विफल रहने के बाद एनडीए एक बार फिर नेपथ्य से मंच के केंद्र में आ गया है. सन 1998 में…

आम चुनाव 2024: जनादेश के क्या मायने हैं ?

इस लेख में प्रो. अरुण कुमार इस प्रश्न पर विचार कर रहे हैं कि भारत की संवैधानिक और राजनीतिक संरचना में ‘जनादेश’ का क्या अर्थ है? नरेंद्र मोदी तीसरी बार…

अयोध्या में ‘हार’: अब हिंदुओं को कौन कलंकित कर रहा है?

अयोध्या-फैजाबाद में भाजपा को मिली हार, पार्टी और पूरे संघ परिवार के लिए बड़ा भारी नुक़सान है। “जो लोग अतीत को याद नहीं रख सकते, उन्हें उसे दोहराने की सजा…

समाचार की परतें: मोदी, गांधी, चुनाव और पाकिस्तान

इन चुनावों में कई मुद्दों पर चर्चा हुई। चुनाव के अंत तक आते-आते, पाकिस्तान से लेकर महात्मा गांधी तक के विषय सामने आए। वरिष्ठ पत्रकार अनिल जैन इसी सब का…

ख़ाम-ख़याली: मोदी जी का ध्यान बार–बार टूट रहा है!

मोदी जी, ध्यान में बैठे हैं, लेकिन उनका ध्यान बार–बार टूट रहा है। कोई तो दुष्ट है जो उनकी मौन साधना में बार-बार व्यवधान डाल रहा है! डिस्क्लेमर:यह एक व्यंग्य…

महाराष्ट्र: नरेंद्र मोदी की आलोचना वाला ध्रुव राठी का वीडियो शेयर करने पर वकील के ख़िलाफ़ केस

बीते 20 मई को लोकसभा चुनाव के पांचवें चरण के मतदान के दौरान पालघर ज़िले के वसई में एक अधिवक्ता ने वसई बार एसोसिएशन के एक वॉट्सऐप ग्रुप में यूट्यूबर…

नरेंद्र मोदी ने नफ़रती भाषण देकर प्रधानमंत्री पद की गरिमा को कम किया है: डॉ. मनमोहन सिंह

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने लोकसभा चुनाव के आखिरी चरण के मतदान से पहले जारी एक पत्र में कहा कि नरेंद्र मोदी पहले पीएम हैं जिन्होंने सार्वजनिक चर्चा की गरिमा…

नरेंद्र मोदी के पिछली सरकारों से ज़्यादा नौकरी देने के दावे के कितनी सच्चाई है?

बीते दिनों पीटीआई को दिए एक साक्षात्कार में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दावा किया कि उनके शासनकाल में पिछली सरकारों से ज़्यादा नौकरियां दी गई हैं. हालांकि, यह स्पष्ट नहीं…